हरप्रीत सिंह ने रचा इतिहास, बनी इंडियन एयरलाइंस में पहली महिला CEO

नई दिल्ली. भारतीय विमानन क्षेत्र में इतिहास रचते हरप्रीत ए डी सिंह (Harpreet A De Singh) एलायंस एयर (Alliance Air) की पहली महिला सीईओ (CEO) नियुक्त हुई हैं. सरकार ने हरप्रीत ए डी सिंह को एयर इंडिया की सहायक एलायंस एयर का सीईओ नियुक्त किया है. सिंह वर्तमान में एअर इंडिया की एक्सक्यूटिव डायरेक्टर (उड़ान सुरक्षा) हैं. एआई के सबसे वरिष्ठ कमांडरों में से एक कैप्टन निवेदिता भसीन जो वर्तमान में ड्रीमलाइनर बोइंग 787 चला रही हैं. भसीन सिंह के स्थान पर एअर इंडिया की नई एक्सक्यूटिव डायरेक्टर होंगी.

एआई के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक राजीव बंसल ने शुक्रवार को एक आदेश जारी करते हुए कहा कि सिंह अगले आदेश तक एलायंस एयर के सीईओ का पद संभालेंगे. इसके अलाव कैप्टन निवेदिता भसीन को उनके अनुभव को देखते हुए कई अन्य विभागों का प्रमुख बनाया गया है.

आपको बता दें कि एलायंस एयर को फिलहाल PSU ही रहेगी, अभी एअर इंडिया के साथ इसे नहीं बेचा जाएगा. यदि महाराजा को खरीदार मिलता है और उसका निजीकरण किया जाता है तो एअर इंडिया की पुराने बोइंग 747 को एलायंस एयर में स्थानांतरित किया जाएगा, जिसके पास वर्तमान में टर्बोप्रॉप का एक बेड़ा है.


हरप्रीत सिंह पहली महिला पायलट हैं जो 1988 में एयर इंडिया द्वारा चयनित हुई थीं. हालांकि, वह स्वास्थ्य कारणों से वे उड़ान नहीं भर सकीं और उड़ान सुरक्षा के क्षेत्र में बहुत सक्रिय रही हैं. सिंह ने भारतीय महिला पायलट एसोसिएशन का नेतृत्व किया है जहां भसीन और अन्य वरिष्ठ महिला कमांडर जैसे कप्तान क्षमता बाजपेयी को नए पायलट रोल मॉडल के रूप में देखते हैं.

एयर इंडिया 1980 के दशक की शुरुआत में महिला पायलटों को नियुक्त करने वाली पहली भारतीय एयरलाइन थी. कैप्टन सौदामनी देशमुख भारत की पहली महिला कमांडर (एक फोकर फ्रेंडशिप में) थीं. जबकि महिला पायलटों का वैश्विक औसत 2-3% रहा है, भारत 10% से अधिक रहा है.

Advertisement