इस तारीख से दौड़ेंगी गुरुग्राम रैपिड मेट्रो, देखने को मिल सकता है ये बड़ा बदलाव

गुरुग्राम। अनलॉक-4 के तहत आगामी 7 सितंबर से देशभर में मेट्रो ट्रेनों के संचालन की शुरूआत होने जा रही है। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) दिल्ली मेट्रो के साथ-साथ गुरुग्राम में चलने वाली गुड़गांव रैपिड मेट्रो रेल का भी संचालन आगामी 7 सितंबर से शुरू करने जा रहा है। वहीं, गुड़गांव रैपिड मेट्रो का दोबारा संचालन शुरू होने के कुछ दिनों बाद ही अहम बदलाव देखने को मिल सकते हैं। दरअसल, हरियाणा सरकार की ओर ओर रैपिड मेट्रो की सुरक्षा हरियाणा पुलिस को सौंपने की तैयारी चल रही है। इस बाबत कई बात बातचीत भी हो चुकी है।

बताया जा रहा है कि सीआइएसएफ से बातचीत चल रही है, लेकिन उनका खर्च ज्यादा है। हरियाणा सरकार के निर्धारित बजट से सीआइएसएफ का बजट अधिक है। ऐसे में हरियाणा पुलिस को सुरक्षा का जिम्मा देने की तैयारी चल रही है। गौरतलह है कि अक्टूबर, 2019 में रैपिड मेट्रो के संचालन की कमान दिल्ली मेट्रो रेल निगम को सौंप दी गई थी।

अभी यहां निजी कंपनी के कर्मचारी ही मेट्रो की सुरक्षा में तैनात हैं, लेकिन सरकार पर भी इसकी पुख्ता सुरक्षा करने का दबाव है। वहीं सीआईएसएफ ने मेट्रो सुरक्षा के लिए प्रत्येक माह आठ से दस करोड़ रुपये का खर्च आने का ब्योरा उन्हें सौंपा है। यह काफी ज्यादा है।

हरियाणा मास रैपिड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (एचएमआरटीसी) की बोर्ड मीटिंग में भी इस बाबत चर्चा की जा चुकी है। हरियाणा पुलिस को सुरक्षा देने का खाका मुख्यमंत्री मनोहर लाल के के समक्ष भी रखा चा चुका है। उनसे हरी झंडी मिलने के बाद इसका फैसला लिया जाएगा।

रैपिड मेट्रो के हैं 11 स्टेशन

गुरुग्राम में रफ्तार भरने वाली रैपिड मेट्रो का कुल 12 किमी लंबा कॉरिडोर है। इस पर 11 स्टेशन बने हुए हैं। इनमें साइबर सिटी बेलवेडेयर टावर, सिकंदरपुर, मौलसरी एवेन्यू, सेक्टर 55-56 जैसे व्यस्त स्टेशन शामिल हैं।

वीएस कुंडू (अतिरिक्त मुख्य सचिव) का कहना है इसमें कोई दो राय नहीं है कि सीआइएसएफ का खर्च महंगा होने के चलते बैठक में सरकार की ओर से हरियाणा पुलिस को रैपिड मेट्रो की सुरक्षा में लगाने पर विचार किया गया है। अब तक मुख्यमंत्री ने अभी इस पर सहमति नहीं दी है।

सुरक्षा की जिम्मेदारी किसी न किसी देनी है। इस संबंध में सीआइएसएफ से बात चल रही थी, लेकिन इसका कोई नतीजा नहीं निकला। ऐसे में हरियाणा पुलिस को गुरुग्राम रैपिड मेट्रो रेल की सुरक्षा की जिम्मेदारी मिल सकती है।

7 सितंबर से रैपिड मेट्रो के भी संचालन की तैयारी

दिल्ली मेट्रो रेल निगम दिल्ली मेट्रो के साथ गुड़गांव रैपिड मेट्रो रेल को भी 7 सितंबर से ही चलाने की तैयारी में जुटा हुआ है। गुरुग्राम मेट्रो में रोजाना 60,000 यात्री सफर करते हैं।

Advertisement