हरियाणा की जनता को एक और एलिवेटेड रोड़ का तोहफा, 45 मिनट का सफर होगा 15 मिनट में तय

गुरुग्राम| दिल्ली- सोहना- अलवर हाइवे पर सफर करने वाले वाहन चालकों के लिए बड़ी खुशखबरी है. इस हाइवे पर सुभाष चौक से बादशाहपुर के आगे तक बनाए गए एलिवेटेड रोड़ को शुक्रवार को आम जनता को समर्पित कर दिया गया है. नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) के एक अधिकारी ने बताया कि लोड टेस्टिंग सहित अन्य कार्यों को पूरा कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि राजीव चौक से सोहना तक 22 किलोमीटर लंबे कॉरिडोर को इस हिसाब से तैयार किया जा रहा है कि वाहन 100 से 120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकें. इस एलिवेटेड रोड़ के शुरू होने पर राजीव चौक से सोहना तक लगने वाला एक घंटे का समय सिमटकर 15 से 18 मिनट रह जाएगा. इस एलिवेटेड रोड़ पर वाहन नॉन स्टॉप रफ्तार भर सकेंगे.

आसपास की सोसायटी को मिलेगा फायदा

इस एलिवेटेड रोड़ के शुरू होने से इसके दोनों और बसी सोसायटी में रहने वाले लाखों लोग अब बिना ट्रैफिक जाम में फंसे जल्द अपने घर पहुंच सकेंगे. वहीं प्रतिदिन सोहना व गुरुग्राम के लिए आवागमन करने वाले हजारों वाहन चालकों को समय की बचत के साथ ईंधन की बचत भी होगी. इसके साथ ही सुभाष चौक, वाटिका चौक, बादशाहपुर आदि जगह जाम फ्री हो जाएगी. वहीं इस एलिवेटेड रोड़ के शुरू होने से यहां पर स्थित तमाम कंपनियों के कॉरपोरेट आफिस, शॉपिंग मॉल में नौकरी करने वाले या फिर घूमने आने- जाने वाले लोगों को भी फायदा पहुंचेगा.

बाद में हो सकता है उद्घाटन

एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर पीके कौशिक ने बताया कि हमारी तरफ से रोड़ तैयार है, टेस्ट पैरामीटर पूरे हो चुके हैं. शुक्रवार को कोई उद्घाटन कार्यक्रम नहीं था और ट्रैफिक को आवागमन की अनुमति दे दी गई है. उद्घाटन कार्यक्रम बाद में किसी दिन आयोजित किया जाएगा. टोल दरों को लेकर उन्होंने कहा कि टोल दरों की गणना की जा रही है, जिसके पूरा होने पर अप्रूवल लेकर दो तीन दिन में नई दरें लागू होंगी.

लोगों ने बताई राहत

वाटिका सिटी से एक महिला ने बताया कि एलिवेटेड रोड़ शुरू होने से दोनों तरफ बसी सोसायटी की जनता को फायदा पहुंचेगा. अब सुभाष चौक व अन्य चौराहों पर बिना जाम में फंसे अपने घर पहुंच सकेंगे. वहीं एक अन्य शख्स ने बताया कि दिन में किसी काम से एक बार गुरुग्राम आना हो जाता है. पहले जाम के कारण एक साइड का सफर तय करने में एक घंटे का समय लग जाता था लेकिन अब 20 से 25 मिनट में घर पहुंच सकेंगे. वहीं इस एलिवेटेड रोड़ के शुरू होने पर ग्रामीण टोल दरें नहीं बढ़ाने की भी मांग कर रहे हैं.

Advertisement