बैंकों का बड़ा तोहफा! FD के साथ ग्राहकों को मिलेगा हेल्थ कवर भी, जानें इसके बारे में सबकुछ

नई दिल्ली. इस समय देश की सरकारी और प्राइवेट बैंक में FD पर बहुत कम ब्याज मिल रहा है. ऐसे में कुछ बैंकों ने अपने यहां FD कराने पर ग्राहकों को कई तरह की सुविधाएं ऑफर शुरू की दी है. उसमें ये एक है हेल्थ इंश्योरेंस. इस समय DCB Bank और ICICI बैंक अपने यहां FD कराने पर ग्राहकों को हेल्थ इंश्योरेंस जैसी सुविधा दे रही है. आइए जानते है इन बैंकों में मिलने वाली हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधाओं के बारे में…

FD पर हेल्थ इंश्योरेंस- जो भी बैंक अपने यहां FD पर हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा देते है. उसके लिए वह दूसरी इंश्योरेंस कंपनी से टाइअप करते है. वहीं अलग-अलग बैंक की ओर से दी जाने वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी भी में काफी अंतर होता है. आपको बता दें DCB बैंक ने अपने ग्राहकों को हेल्थ इंश्योरेंस देंने के लिए ICICI Lombard से टाइ अप किया है. वहीं ठीक इसी तरह से ICICI बैंक भी अपने यहां FD कराने पर ग्राहकों को हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा मुहैया करा रही है.

निश्चित ब्याज दर पर हेल्थ इंश्योरेंस- DCB बैंक और ICICI बैंक की ओर से जारी ब्याज दरों पर ही ग्राहकों को हेल्थ इंश्योरेंस दिया जा रहा है. लेकिन इस इंश्योरेंस की दोनों ही बैंकों ने अलग-अलग समय सीमा तय कर रखी है. आपको बता दें DCB बैंक की ओर से FD पर 700 दिनों के लिए हेल्थ इंश्योरेंस दिया जा रहा है. वहीं ICICI बैंक की ओर से 2 साल के लिए हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दी जा रही है.

इतनी राशि पर मिलेगा हेल्थ इंश्योरेंस- ज्यादातर बैंक में न्यूनतम और अधिकतम राशि की FD पर हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दी जाती है. जैसे की DCB बैंक की ओर से स्वास्थ्य प्लस पॉलिसी के लिए न्यूनतम 10 हजार रुपये की एफडी कराना अनिवार्य है. वहीं ICICI बैंक में 2 से 3 लाख रुपये की एफडी पर हेल्थ इंश्योरेंस की सुविधा दी जा रही है.

इन हेल्थ इंश्योरेंस में कवर रहता है सीमित- बैंकों की ओर से एफडी पर मिलने वाले हेल्थ इंश्योरेंस पर सीमित कवर होता है. उदाहरण के लिए ICICI बैंक की ओर से गंभीर बीमारी के इलाज के लिए अधिकतम 1 लाख रुपये तक का हेल्थ इंश्योरेंस दिया जा रहा है. वहीं इन पॉलिसी में उम्र की बाध्यता भी रहती है. जैसे DCB बैंक के स्वास्थ्य प्लस पॉलिसी के लिए 50 और 70 वर्ष से अधिक उम्र नहीं होनी चाहिए.

हेल्थ इंश्योरेंस लेते समय इन बातों का रखें ध्यान- यदि आप केवल इस तरह की पॉलिसी का फायदा लेने के लिए FD करा रहे है. तो आपको इसकी सभी नियम और शर्तों को बारीकी से पढ़ना चाहिए. क्योंकि कई बार बैंकों की ओर से 2 साल की एफडी पर केवल 1 साल के लिए हेल्थ इंश्योरेंस दिया जाता है. इसके अलावा बैंकों ने अधिकतम और न्यूनतम राशि की FD कराने पर हेल्थ इंश्योरेंस के कवर की राशि भी तय कर रखी है. इसलिए आपको सभी महत्वपूण निर्देशो को ठीक प्रकार से पढ़ना चाहिए.

Advertisement