सुशांत केस में मिल गया बड़ा सुराग? NCB को ड्रग पैडलर्स, सैमुअल और रिया के भाई के बीच मिला लिंक

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच में बड़ा डेवलपमेंट सामने आ रहा है। सुशांत सिंह राजूपत केस में ड्रग्स एंगल की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो यानी एनसीबी की टीम को अहम सुराग हाथ लगे हैं। एनसीबी ने दावा किया है कि उसे सैमुअल, ड्रग पैडर्स और रिया के भाई शॉविक के बीच डायरेक्ट लिंक मिले हैं। एनसीबी ने ड्रग्स की तस्करी मामले में जैद विलात्रा से पूछताछ के आधार पर बांद्रा से बासित परिहार को भी गिरफ्तार किया है। एनसीबी के सूत्रों ने बताया कि दोनों ने सुशांत सिंह राजपूत के घर के मैनेजर सैमुअल मिरांडा और रिया चक्रवर्ती के भाई शॉविक के नामों का खुलासा किया है।

यही वजह है कि एनसीबी की टीम ने आज सुबह ही सैमुअल और रिया चक्रवर्ती के घर पर पर छापा मारा और फिर पूछताछ के लिए दोनों को समन जारी किया। सैमुअल को पूछताछ के लिए एनसीबी की टीम अपने साथ ही ले गई। बता दें कि रिया के घर सुबह सात बजे से पहले ही टीम पहुंच गई और छापमारी करने लगी।

एनसीबी के एक सीनियर आईपीएस अधिकारी ने कहा कि परिहार को बीती रात गिरफ्तार किया गया और उसे आज मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया जाएगा। छापेमारी के दौरान सैमुअल और शॉविक के घर से कुछ अहम सबूत भी मिले हैं। क्योंकि जांच अभी बहुत ही शुरुआती दौर में है और ऐसी स्थिति में सबूतों का विवरण नहीं दिया जा सकता है।

बता दें कि इससे पहले मुंबई की एक अदालत ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित एक मामले में गिरफ्तार मादक पदार्थों के एक कथित तस्कर जैद विलात्रा को गुरुवार को नौ सितंबर तक एनसीबी की हिरासत में भेज दिया। आरोपी जैद विलात्रा (21) को मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने उसे आगे की जांच के लिये सात दिन की मादक पदार्थ नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) की हिरासत में भेज दिया।

एनसीबी ने अदालत को बताया कि विलात्रा ने कई व्यक्तियों के नाम बताए हैं जिन्हें उसने मादक पदार्थों की आपूर्ति की। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ किया जाना जरूरी है क्योंकि वह मादक पदार्थों की तस्करी में मुख्य शख्स हो सकता है। यही वजह है कि मिरांडा को आज हिरासत में लिया गया है, जिससे आज पूछताछ हो रही है।

एनसीबी अधिकारियों की मानें तो एजेंसी सुशांत सिंह केस में ड्रग्स एंगल की हकीकत सामने लाने के लिए विलात्रा और परिहार से लगातार पूछताछ कर रही है। एजेंसी ने विलात्रा के पास से 9,55,750 रुपये की भारतीय मुद्रा और विदेशी मुद्रा (2,081 अमेरिकी डॉलर, 180 ब्रिटिश पाउंड, 15 दिरहम) बरामद की हैं। एजेंसी का दावा है कि उसके पास से बरामद पैसा ‘मादक पदार्थों की तस्करी से कमाया गया है।’

Advertisement