भगोड़ा शाहरुख़ कुछ इस तरह हुआ गिरफ्तार

शामली. उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के मामले में वांछित मोहम्मद शाहरुख को दिल्ली क्राइम ब्रांच ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर लिया है शाहरुख ने 24 फरवरी को जाफराबाद में पुलिस जवान पर पिस्तौल तानी थी और 8 राउंड फायरिंग की थी। फायरिंग के बाद वह 8 दिनों से फरार चल रहा था।

इससे पहले क्राइम ब्रांच को शाहरुख के बरेली में छिपे होने की सूचना मिली थी। इस पर दिल्ली पुलिस और क्राइम ब्रांच की 10 टीमें शाहरुख़ की तलाश में जुटी हुई थीं। बताया जा रहा है कि शाहरुख फायरिंग के बाद पानीपत, कैराना, अमरोहा जैसे अलग-अलग शहरों में छिपता रहा। दिल्ली हिंसा में अब तक के 47 लोग मारे जा चुके हैं।

शाहरुख के रुकने का इंतजाम उसके पिता ने करवाया

शाहरुख के पिता साबिर राणा ने ही दिल्ली हिंसा के बाद उसे रुकवाने के लिए पहले बरेली भेजा और फिर शामली में उसके रहने का इंतजाम करवाया था। शाहरुख को उसके पिता ने दो साथियों के जरिए बरेली भिजवाया था। बरेली में शाहरुख़ करीब 4-5 दिन ठहरा और फिर शामली में शिफ्ट हो गया। दिल्ली पुलिस ने शामली से ही उसे गिरफ्तार किया। हालांकि, बरेली और मेरठ पुलिस ने बताया कि शाहरुख की गिरफ्तारी के बारे में स्थानीय पुलिस को कोई जानकारी नहीं है।

शाहरुख के पिता साबिर का ड्रग तस्करी का धंधा

शाहरुख का परिवार पंजाब का रहने वाला हैं। वह पिछले कई साल से दिल्ली के घोंडा में रह रहा है। सूत्रों ने बताया कि उसका पिता साबिर ड्रग्स तस्करी से जुड़ा है। वह पंजाब से ड्रग्स की तस्करी कर दिल्ली के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के कई जिलों में भी सप्लाई करता था। उस पर मादक पदार्थ अधिनियम के तहत कई मामले दर्ज हैं। शाहरुख के पिता फिलहाल अपाहिज है। कई बार पंजाब, दिल्ली और उत्तर प्रदेश की जेलों में बंद रहा है। शाहरुख के दो भाई भी हैं।

 

Advertisement