जिसके लिए रखा करवा चौथ का व्रत, उसी ने रात के समय में पत्नी के साथ की ये वारदात

महिलाएं अपने पति और परिवार के लिए कुछ भी कर सकती है। तभी तो महिलाएं अपने पति की लम्बी आयु के लिए करवाचौथ का व्रत रखती है। लेकिन जब पति ही हैवान बन जाये तो क्या किया जाए। मालूम हो कि महिलाएं अपनी पति की लंबी आयु के लिए दिनभर भूखी-प्यासी इस व्रत को रखती हैं। रात में चांद का दीदार करने के बाद पति के हाथों से पानी पीकर और प्रसाद खाकर अपना व्रत खोलती हैं। लेकिन इसी दिन एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आई है।

जहां प्रेमी के साथ लिव इन में रहने वाली नर्स पर एसिड फेंक कर उसे आरोपी ने जिदंगी भर का दर्द दे दिया। इसके बाद प्रेमी मौके से भाग गया। पीड़ित के पिता मनोहरलाल रावत ने बताया कि उनकी बेटी सुनीता की शादी आज से 20 साल पहले 2000 में शमशाबाद के रहने वाले अनिल पटवा से हुई थी। जहां उनको दो बच्चे भी हुए, लेकिन फिर दोनों में आए दिन झगड़ा होने लगा।

बात तलाक तक पहुंच गई और  2007 में उन्होंने अलग होने का फैसला लेते हुए तलाक ले लिया। दोनों बच्चे पति के पास ही रहते हैं। इसके बाद वह हमारे पास आ गई, फिर गांव के ही मुकेश से सुनीता की दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे वह एक-दूसरे को पसंद करने लगे। पिता ने बताया कि कुछ समय बाद सुनीता का नर्सिंग का कोर्स पूरा हो गया और उज्जैन शहर के तेजेनकर हॉस्पिटल में नौकरी लग गई।


 

इसी दौरान मुकेश भी वहां पहुंच गया और दोनों साईंधाम कॉलोनी में किराए के मकान में सुनीता और मुकेश रहने लगे। दोनों के बीच पति-पत्नी की तरह संबंध बन गए। पुलिस को दी शिकायत में सुनीता के परिजनों ने बताया कि आरोपी मुकेश उनकी बेटी पर शक करने लगा था। यहां तक कि अस्पताल में आकर उसकी निगरानी करता था। जब सुनीता किसी मरीज से बात करती तो बीच में टोकने लगता। वह उसे नौकरी छोड़ने के लिए कह रहा था। इतना ही नहीं आए दिन उसके साथ मारपीट तक करने लगा।

लेकिन जब कभी सुनीता मुकेश से शादी का बोलती तो बहाना बना देता था। दरअसल, यह दर्दनाक घटना करवा चौथ के दिन घटी। जहां मुकेश नाम के प्रेमी ने अपनी प्रेमिका सुनीता पर सोते में तेजाब फेंक दिया। एसिट इतना तेज था कि बिस्तर तक जल गया। पिता मनोहर ने बताया कि सुनीता का चेहरा देखकर वह दंग रह गए। क्योंकि चेहरा पूरी तरह से झुलस चुका था। पीड़िता का चेहरे से लेकर शरीर का ऊपरी हिस्सा बुरी तरह झुलस गया। जहां उसको किसी तरह आसपास के लोगों ने अस्पताल में भर्ती कराया। फिलहाल वह जिंदगी और मौत से जूझ रही है।

Advertisement