हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में इस किसान नेता की कार पर फायरिंग, किसान आंदोलन में जाने के लिए निकले थे

कुरुक्षेत्र। हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले में भारतीय किसान यूनियन (टिकैत ग्रुप) के प्रदेश महासचिव जसतेज सिंह संधू पर जानलेवा हमला करने का मामला सामने आया है।

संधू पर सोमवार सुबह बाइक सवार युवकों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की। जसतेज पूर्व कृषि मंत्री जसविंदर सिंह संधू के बेटे हैं और किसान आंदोलन में जाने के लिए निकले थे। लेकिन इस हमले में जसतेज बाल-बाल बच गए। वारदात पुलिस चौकी कुछ ही दूरी पर अंजाम दी गई।

जानकारी के अनुसार, जसतेज पिहोवा के गांव गुमथला गढू से थाना टोल प्लाजा पर चल रहे किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए निकले थे। जब वे गुमथला गढू के से निकलकर गांव बेगपुर बस अड्डे के पास पहुंचे तो बाइक सवार युवकों ने उन पर गोलियां बरसाईं, लेकिन गोलियां कार के अगले शीशे और ड्राइवर की तरफ के शीशे को तोड़ते हुए निकल गईं।

फायरिंग करने के बाद युवक मौके से फरार हो गए। हमले में जसतेज बाल-बाल बच गए। जहां वारदात हुई, वहां से पुलिस चौकी कुछ ही दूरी पर है।

इसके बाद जसतेज ने पुलिस को हमले की खबर दी। जानकारी मिलते ही गुमथला गढ़ू पुलिस चौकी टीम मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल की। अज्ञात बाइक सवार युवकों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच की जा रही है। वहीं इस घटना का पता चलते ही पिहोवा में थाना टोल प्लाजा पर धरने पर बैठे किसान भड़क गए। उन्होंने घटना की निंदा करते हुए SP हिमांशु गर्ग से मिलने का समय लिया है।

बता दे कि भाकियू नेता जसतेज संधू किसान संघर्ष में पहले दिन से बढ़ चढ़ कर भाग ले रहे है। जसतेज संधू ने अभी कुछ दिन पहले पिहोवा के गांव गुमथलागढू में महापंचायत का भी आयोजन किया था जिसमें भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसानों को संबोधित किया था।

Advertisement