फ्री फायर कंपनी पर हुई FIR, तो मासूम बच्चे ने की आत्महत्या, ये थी वजह

भोपाल: छतरपुर में ऑनलाइन गेम में 40 हजार हारकर 13 साल के मासूम द्वारा आत्महत्या करने के मामले के बाद मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने फ्री फायर गेम कंपनी पर एफआईआर दर्ज की है। गृहमंत्री ने प्रदेश के सभी एसपी को निर्देश दिए हैं कि ऐसे सभी गेम कंपनियों को चिन्हित करें जो बच्चों को एडिक्ट बना रही हैं। ऐसी कंपनियां जो मासूमों के जीवन से खिलवाड़ करने की कोशिश कर रही हैं, भटकाने की कोशिश कर रही हैं ऐसी सारी कंपनियों को कानून के दायरे में प्रतिबंधित कैसे करें इसको लेकर विधि विभाग से राय ली है और बहुत जल्द राय आने के बाद इस तरह की कंपनियों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दें कि छतरपुर में ऑनलाइन गेम में कथित तौर पर 40 हजार रुपए गंवाने पर 13 वर्षीय लड़के ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) शशांक जैन ने बताया कि छठी कक्षा के एक छात्र ने बीते शुक्रवार दोपहर को अपने घर पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। वहां घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला था जिसमें उसने लिखा था कि उसने मां के खाते से 40 हजार रुपए निकाले और इस पैसे को ‘‘ फ्री फायर” गेम में बर्बाद कर दिया।

PunjabKesari

छात्र ने अपनी मां से माफी मांगते हुए लिखा है कि डिप्रैशन के कारण वह आत्महत्या कर रहा है। पुलिस ने बताया कि लड़के ने जब यह कदम उठाया तब उसकी मां और पिता घर पर नहीं थे। छात्र की मां प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग में नर्स हैं और घटना के समय जिला अस्पताल में थीं।

PunjabKesari

उन्होंने बताया कि रुपयों के लेनदेन को लेकर छात्र की मां के फोन पर संदेश आया ,जिसके बाद मां ने अपने बेटे को डांट लगाई थी। इस पर लड़के ने कमरे में खुद को बंद कर लिया। कुछ देर बाद उसकी बड़ी बहन वहां पहुंची तो उसने कमरा अंदर से बंद पाया और इसकी सूचना अपने माता-पिता को दी। उन्होंने बताया कि कमरे के दरवाजे को तोड़ा गया तो लड़का पंखे से लटका मिला।

Advertisement