पीजीआई रोहतक में नर्सिंग काउंसलिंग में जमकर चले थप्पड़ घूसे, जानिए क्या है पूरा मामला

रोहतक। बुधवार को रोहतक पीजीआई में नर्सिंग की काउंसलिंग में जमकर हंगामा हुआ। यहां सिक्योरिटी ऑफिसर और चंडीगढ़ डीएमईआर कार्यालय से आए कर्मचारी के बीच हाथापाई हुई। काउंसलिंग में जमकर लात घूंसे चले। स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के फार्मेसी कॉलेज सभागार में चल रही भर्ती के दौरान आम आदमी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद उम्मीदवारों की समस्या के समाधान के लिए वहां पहुंचे। इस दौरान जयहिंद से भी बदसलूकी की गई। इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो भी सामने आया है।

वीडियो में रोहतक पीजीआई के सिक्योरिटी ऑफिसर और चंडीगढ़ डीएमईआर कार्यालय से आए कर्मचारी के बीच हाथापाई देखी जा सकती है। दरअसल पीजीआई रोहतक में नर्सिंग भर्ती डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रक्रिया चल रही है। आवेदकों ने इस भर्ती प्रक्रिया में गड़बड़ी के आरोप लगाए। जिसके बाद आम आदमी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कमेटी से मिलने रोहतक पीजीआई पहुंचे। आवेदकों की शिकायत पर पीजीआई का सिक्योरिटी ऑफिसर नवीन जयहिंद को डॉक्यूमेंट वेरीफाई कमेटी से मिलवाने अंदर ले गए। इसके बाद चंडीगढ़ डीएमईआर कार्यालय से आया कर्मचारी भड़क गया और सिक्योरिटी गार्ड से बदसलूकी करने लगा।

नवीन जयहिंद का कहना है कि स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय परिसर में नर्सिंग भर्ती के लिए काउंसलिंग चल रही है। इस काउंसलिंग में उम्मीदवारों ने कई तरह की आपत्तियां दर्ज कराते हुए अपनी परेशानी उठाई। उनके समाधान के लिए वहां पहुंचा और अधिकारी से बात करने का प्रयास किया। गेट पर ही सुरक्षा अधिकारियों ने रोक लिया और अंदर नहीं जाने की बात कही। इसके बाद मुख्य सुरक्षा अधिकारी आए और उन्होंने बातचीत कराने का आश्वासन दिया। उनके साथ सभागार में प्रवेश किया। यहां जहां भर्ती चेयरमैन ने मुख्य सुरक्षा अधिकारी से अभद्रता की और उन्हें थप्पड़ मारा। विश्वविद्यालय के कर्मचारी ने अपने ही वरिष्ठ अधिकारी के साथ मारपीट की। अपील है कि भर्ती रदद् की जाए और नए सिरे से आयोजित की जाए।

मुख्य सुरक्षा अधिकारी ईश्वर शर्मा का कहना है कि उन्हें कैंपस में नवीन जयहिंद के आने की सूचना मिली थी। सुरक्षा दृष्टि से मामला का संभालने के लिए वे खुद मौके पर पहुंचे। नवीन जयहिंद ने भर्ती उम्मीदवारों की समस्याएं रखते हुए उनके समाधान के लिए अधिकारी से बातचीत कराने की अपील की। इसके चलते सभागार में गया। यहां भर्ती चेयरमैन ने ऊंची आवाज में कुछ कुछ कहना शुरू कर दिया। बात करने का प्रयास किया तो उन्होंने थप्पड़ मारा। इसके बाद जवाब में मैंने उसे थप्पड़ मारा। हाथापाई के दौरान पुलिस कर्मचारी भी वहां मौजूद थे। सिक्योरिटी ऑफिसर के साथ मारपीट होने के बाद कुछ युवकों ने चंडीगढ़ कार्यालय के कर्मचारी को फिर जमकर पीटा।

Advertisement