पिता ने PUBG खेलने से रोका ! बच्चे ने पिता की लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को मारी गोली

Advertisement

------------- Advertisement -----------

चंडीगढ़. पंजाब के जालंधर (Jalandhar) जिले में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. जालंधर शहर के बस्ती शेख के अधीन पड़ते बड़ा बाजार में एक छात्र ने खुद को गोली मार कर सुसाइड (Suicide) कर लिया. मिली जानकारी के अनुसार छात्र ने अपने पिता की लाईसेंसी रिवाल्वर से ही खुद को गोली मारी है. मृतक की पहचान मंथन शर्मा उर्फ़ मानिक पुत्र चंद्र शेखर निवासी बसती शेख बढ़ा बाज़ार के रूप में हुई है.

बताया जा रहा है कि युवक डीएवी कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रहा था. परिवार वालों ने उसे पढ़ाई और अत्यधिक पबजी गेम खेलने को लेकर डांटा था. मृतक युवक के पिता की दवाईयों की दुकान है और वो शहर में आरएसएस के कार्यकर्ता भी हैं. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और छात्र के शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है.

Advertisement

पबजी खेलने से रोकते थे पिता

मृतक के पिता चंद्र शेखर ने बताया की मंथन ने उनकी लाइसेंस रिवाल्वर से खुद को गोली मारकर आत्म हत्या कर ली है. उन्होंने बताया की बेटे की जान चाईनीज़ ऐप ओर बच्चों को ग़लत रास्ते में जाने वाले गेम ने ली. उन्होंने कहा कि मंथन बीबीए का छात्र था जो पबजी गेम बहुत खेलता था. अक्सर वो उसे पब जी गेम खेलने से रोकते थे. जिस कारण बेटे ने पबजी ना खेल पाने के कारण सुसाईड कर ली.

जांच में जुटी पुलिस

वहीं मंथन मरने से पहले एक सुसाइड नोट भी छोड़ गया है. सुसाइड नोट छात्र ने लिखा है, ‘मैं बहुत बुरा हूं.’ फिलहाल पुलिस ने मृतक छात्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है. पुलिस का कहना है कि वो मामले की जांच कर रही है. शुरुआती जांच में सामने आया है कि छात्र को पबजी गेम खेलने से रोकने पर उसने ये कदम उठाया है.

Advertisement