हिमाचल प्रदेश में प्रवेश के लिए ई-पास जरूरी, जानें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन का तरीका

हिमाचल प्रदेश द्वारा कोविड प्रॉटोकोल में जरा सी ढील देते ही पिछले वीकेंड पर सोलन जिले में भारी ट्रैफिक जाम देखने को मिला. इसके चलते राज्य सरकार ने हिमाचल प्रदेश में प्रवेश करने के लिए कोविड ई-पास अनिवार्य कर दिया है. यानी अगर आप हिमाचल घूमने का प्लान बना रहे हैं तो कोविड ई-पास लेना जरूरी है, इसके बिना आपको एंट्री नहीं मिलेगी. हालांकि, कोविड ई-पास को लेकर लोगों के मन में तरह-तरह के सवाल हैं तो चलिए जानते हैं कि ई-पास के लिए आवेदन कैसे और कहां करना है.

हिमाचल प्रदेश में आने वाले लोगों को अब कोविड टेस्ट की रिपोर्ट नहीं दिखानी होगी. हालांकि, हिमाचल जाने से पहले आपको ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा और कोविड ई-पास के लिए आवेदन करना होगा. इसके साथ ही, राज्य सरकार ने पर्यटकों से कोरोना गाइडलाइंस का पालन करने, फेस मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने की अपील भी की है.

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको ई-पास वेबसाइट पर जाकर covid19epass.hp.gov.in पर जाना होगा. इसके बाद अप्लाई फॉर ई-पास पर क्लिक करें. रिक्वेस्ट टाइप (Request Type) में हिमाचल आना, हिमाचल से बाहर जाना और  वापस आना (72 घंटों के भीतर) और राज्य के अंदर इंटर स्टेट बैरियर को पार करना, इन ऑप्शन को अपनी सुविधानुसार चुन सकते हैं.

इसके बाद यात्रा संबंधी अपनी सभी जानकारी भरकर आवेदन पत्र जमा करें. अब अपना पहचान प्रमाण पत्र अपलोड करें. हिमाचल की डेस्टिनेशन के डॉक्यूमेंट एड्रेस में (Documentary Address Proof of Place Travelling to Destination) आप होटल की बुकिंग की कॉपी सब्मिट कर सकते हैं. पूरा फॉर्म सही से भरें क्योंकि अधूरी जानकारी की वजह से ई-पास का आवेदन खारिज भी हो सकता है. आपका आवेदन स्वीकृत हो जाने के बाद आपको एक एसएमएस प्राप्त होगा. इसके बाद ही ई-पास जारी हो पाएगा. ई-पास को आवेदक एसएमएस में दिए गए लिंक के द्वारा डाउनलोड कर सकते हैं. इसके अलावा, आप इसका प्रिंट आउट भी ले सकते हैं

हिमाचल प्रदेश में कोविड कर्फ्यू के बाद नई ट्रैवल गाइडलाइंस जारी की गई हैं. सरकार के अगले आदेश आने तक कोविड गाइडलाइंस को कुछ रियायतों के साथ आगे बढ़ाया दिया गया है. नए दिशानिर्देशों के अनुसार, राज्य में बसों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चलने की अनुमति दी गई है. अब सैलानियों को राज्य में प्रवेश करने के लिए RT-PCR टेस्ट करवाने की कोई आवश्यकता नहीं है.

हिमाचल प्रदेश में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ इंट्रा स्टेट पब्लिक ट्रांसपोर्ट सर्विस शुरू होगी. राज्य में दुकानें खुलने के समय को भी बढ़ा दिया गया है. पहले दुकानें सुबह 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुलती थीं, लेकिन अब दुकानों को सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे खोलने की इजाजत दी गई है.

बता दें, राज्य सरकार द्वारा ये भी निर्णय लिया गया है कि 14 जून से कार्यालय 50% स्टाफ के साथ खोले जाएंगे. 23 जून से सभी मेडिकल कॉलेज, आयुर्वेदिक कॉलेज और डेंटल कॉलेज खुलेंगे. 28 जून से फार्मेसी और नर्सिंग स्कूल भी खोले जाएंगे.

इस बीच, हिमाचल प्रदेश में 7 से 13 जून तक कोविड- 19 पॉजिटिविटी रेट 2.4 प्रतिशत दर्ज किया गया है. स्पेशल हेल्थ सेक्रेटरी निपुण जिंदल ने बताया कि पहाड़ी राज्य में महामारी के शुरुआती दौर से अब तक पॉजिटिविटी रेट 9.2% दर्ज किया गया है

निपुण जिंदल के अनुसार, इस दौरान 1,42,357 कोविड परीक्षण किए गए. इनमें से कोरोना के कुल 3,451 मामले दर्ज हुए. उन्होंने कहा कि चंबा जिले में 4.2 और किन्नौर जिले में 4 प्रतिशत की उच्च पॉजिटिविटी रेट दर्ज की गई, जो पिछले सप्ताह पूरे राज्य के लगभग 2.4 प्रतिशत से अधिक थी.

Advertisement