फतेहाबाद में डायल 112 हुई वरदान साबित, गुमशुदा बच्चे को 45 मिनट में परिजनों से मिलवाया

फतेहाबाद | हरियाणा सरकार द्वारा हाल ही शुरू की गई Dial 112 सेवा टोहाना में एक परिवार के लिए वरदान साबित हुई है. फतेहाबाद पुलिस को 2 दिन पहले ही गाडियां मिली थी और ये गाड़ी भी बड़े काम की निकली. दरअसल, टोहाना शहर में एक साढ़े तीन साल का मासूम अपने परिजनों से बिछड़ गया. बच्चा न ही अपना नाम बता रहा था और ना ही स्वजनों के बारे में कोई जानकारी दें पा रहा था. ऐसे में डायल 112 पर सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची और केवल 45 मिनट में ही बच्चे को स्वजनों के पास पहुंचा दिया.

पहले संसाधनों के अभाव में पुलिस को वारदात सुलझाने में ज्यादा समय लगता था लेकिन इस घटना को कुछ ही मिनटों में सुलझाने पर टोहाना शहर थाना प्रभारी सुरेन्द्र कंबोज व उसकी पूरी टीम को परिजनों व स्थानीय लोगों ने बधाई दी.

15-20 मिनट में पहुंचेगी मौके पर

सरकार द्वारा शुरू की गई इस सेवा से अब लोगों को आस सी बंध गई हैं कि अगर डायल 112 पर सूचना दी तो सुरक्षा के साथ आरोपित भी पुलिस की गिरफ्त में होंगे. बता दें कि डायल 112 आपातकालीन सेवा के अन्तर्गत सब थानों में 2-2 इनोवा गाड़ी भेजी गई है. ये गाड़ी 112 नंबर पर फोन करने पर मौके पर 15-20 मिनट में पहुंचेगी.

1 बजे बिछड़ा था बच्चा, 1:45 पर वापस मिला

टोहाना शहर के कृष्णा कालोनी निवासी अवतार सिंह किसी काम से मार्केट में जाने के लिए निकलें थे. इसी दौरान उनका साढ़े तीन साल का पोता भी उनके पीछे घर से निकल गया और रास्ता भटककर बाजार पहुंच गया. बाजार में स्थानीय लोगों ने डायल 112 को सूचित किया. टीम बराड़ चौक के समीप मौके पर पहुंची और बच्चे से उसके परिजनों के बारे में पुछा लेकिन वह कुछ नहीं बता पाया.

इस पर पुलिसकर्मी बच्चे को अपने साथ थाने में लें आएं और आस-पास के इलाकों में इसकी सूचना दी. बच्चे को ढूंढ रहे परिजनों को जब यह सूचना मिली तो वे थाने में पहुंच गए. बच्चे को सकुशल पाकर परिजनों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा और उन्होंने पुलिस टीम का धन्यवाद किया.

Advertisement