हरियाणा के इस जिलें में बेसहारा पशुओं को पकड़ने का चलेगा अभियान, कमिश्नर ने बनाई योजना

हिसार। हिसार में अब बेसहारा पशुओं से निजात मिलने की फिर से उम्‍मीद जगी है। शहर की सड़कों पर जनता के लिए परेशानी का सबब बने बेसहारा पशुओं को पकडऩे का कार्य शुरू होगा। मंगलवार से शहर में बेसहारा पशु पकड़े जाएंगे। इसके लिए नगर निगम कमिश्नर अशोक कुमार गर्ग ने प्लानिंग की है। उन्होंने कहा कि बेसहारा पशुओं को पकडऩे के संबंध में सोमवार को कर्मचारियेां को दिशा निर्देश दिए जाएंगे।

हमारा प्रयास रहेगा कि मंगलवार से शहर में पशु पकड़ों अभियान की शुरूआत कर दे। ऐसे में अब निगम प्रशासन भी चाहता है कि जनता को बेसहारा पशुओं से राहत मिले।दैनिक जागरण में गोवंश संरक्षित हम सुरक्षित अभियान शुरु किया है। जिसमें प्रदेश भर में गोवंश की स्थिति से जनता को अवगत करवाया और उनके जिन अपनों ने बेसहारा पशुओं के कारण सड़क हादसें में जान गवां दी उनके दर्द से जनता को रूबरू करवाया।

इस अभियान के माध्यम से सड़कों को बेसहारा पशु मुक्त करने के लिए कदम बढ़ाया है। उसी कड़ी में नगर निगम कमिश्नर ने शहर की सड़कों से बेसहारा पशुओं को पकडऩे की प्लानिंग की है। अब शहर की सड़कों से बेसहारा पशु पकड़कर उन्हें गोशालाओं में भेजा जाएगा।

हिसार की मुख्य सड़कों से लेकर गली मोहल्लों तक में बेसहारा पशुओं की भरमार

इन दिनों हिसार की एक भी ऐसी कॉलोनी या सेक्टर नहीं जो बेसहारा पशुओं से मुक्त हो। अधिकांश पशुपालक दुधारू गायों का दूध निकालकर उन्हें खुले में छोड़ देते है। ये गाय सड़कों पर लोगों की परेशानी का सबब बनते है। इनके कारण हुए सड़क हादसों में कई लोग अपनी जिंदगी को अलविदा कह चुके है।दैनिक जागरण ने जब जनता का दर्द बताया तो ऐसे में अब प्रशासन ने पशु मुक्त शहर अभियान फिर से शुरु करने का फैसला लिया है। इसी कड़ी में अब तहबाजारी टीम पशु पकडऩे की तैयारी में जुट गई है। कमिश्नर के आदेश मिलते ही शहर में बेसहारा पशु पकड़ो अभियान शुरु हो जाएगा।

मंगलवार से नगर निगम सीमा में बेसहारा पशुओं को पकडऩे का कार्य शुरु किया जाएगा। जो पशु सड़कों पर मिले उन्हें पकड़ा जाएगा। इसके लिए सोमवार को स्टाफ को दिशा निर्देश दे दिए जाएंगे। सोमवार को टीम अपनी तैयारी कर लेगी मंगलवार से पशु पकड़ों अभियान की शुरूआत हो जाएगी।

Advertisement