उपायुक्त ने करोना वायरस के सम्बन्ध में चिकित्सा अधिकारियों को दिए निर्देश

इंडिया ब्रेकिंग/करनाल रिपोर्टर(ब्यूरो) करनाल 16 मार्च, मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने प्रदेश भर के उपायुक्तों एवं चिकित्सा सेवाओं से सम्बंधित अधिकारियों को कोरोना वायरस के सम्बंध में निर्देश देते हुए कहा कि जिले में 100 बैड का आईसोलेशन वार्ड बनाए, करीब 100 वेंटिलेटर की व्यवस्था के साथ-साथ किसी भी आपदा की स्थिति में अलग से एक हजार बैड सम्बंधित आईसोलेशन वार्ड की व्यवस्था करें ताकि आपातकालीन स्थिति होने पर उससे निपटा जा सके।मुख्य सचिव सोमवार को चण्डीगढ़ से वीसी के माध्यम से कोरोना वायरस के सम्बंध में आवश्यक दिशानिर्देश दे रही थी।उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस को लेकर प्रदेश का स्वास्थ विभाग पूरी तरह से सतर्क है तथा विभाग द्वारा इसके दृष्टिगत व्यापक प्रबंध भी किए गए है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से घबराने के जरूरत नही है, बल्कि सावधानी विशेषकर साफ-सफाई अपनाकर इस वायरस से बचा जा सकता है।वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने जिला अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना से सम्बंधित हैल्प लाईन नम्बर 8558893911 है और जिले में हैल्प लाईन नम्बर 108 है, जहां पर कोरोना से सम्बंधित जानकारी ली जा सकती है और इस बीमारी से सम्बंधित लक्षण पाए जाने पर रिपोर्ट की जा सकती है। उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक दिशानिर्देश देते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग ही नही बल्कि सभी को मिलकर इस वायरस से बचने के लिए कार्य करने की जरूरत है। डीसी ने एसडीएम करनाल नरेन्द्र पाल मलिक को निर्देश दिए कि वे कोरोना से निपटने के लिए बाजार में बिक रहे सैनेटाईजर और मास्क की उपलब्धता और उनके भाव सम्बंधित चैकिंग करें ताकि कोई भी विक्रेता इनसे सम्बंधित अधिक स्टॉक ना करें और इसकी ब्लैक मार्किटिंग ना हों। उन्होंने एसडीएम इन्द्री सुमित सिहाग को निर्देश दिए कि आईसीएस एक्टिविटी के तहत कोरोना वायरस से सम्बंधित जागरूकता पूरे जिले में फैलाना सुनिश्चित करें, जागरूकता ही इस बीमारी से बचाव का एकमात्र साधन हो सकता है।उपायुक्त ने अतिरिक्त उपायुक्त अनिश यादव को निर्देश दिए कि कल्पना चावला राजकीय मैडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में 70 तथा जिला नागरिक अस्पताल में 30 बैड का आईसोलेशन वार्ड और जिले की विभिन्न धर्मशालाओं सहित अन्य स्थानों पर एक हजार बैड के आईसोलेशन वार्ड की व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने सीएमओ डॉ. अश्वनी कुमार को कहा कि वेंटीलेटर की व्यवस्था पूरी होनी चाहिए, इस पर सीएमओ ने उपायुक्त को बताया कि जिले में निजि व सरकारी अस्पतालों में 31 वेंटीलेटर्स की उपलब्धता है। उपायुक्त ने ईओ हुडा अनुपमा सांगवान को निर्देश दिए कि वे जिले मे मॉल, जिम, स्वीमिंग पुल, स्कूल, कॉलेज, आईटीआई, पॉलटेक्निक और कोचिंग केन्द्रों सहित ऐसे सभी केन्द्रों को आगामी 31 मार्च तक बंद करवाना सुनिश्चित करें जहां पर 200 से अधिक छात्र-छात्राओं व लोगों के इक्कठा होने की संभावना रहती है।उपायुक्त ने एसडीएम घरौंडा गौरव कुमार को निर्देश दिए कि औद्योगिक इकाई जिनमें कर्मचारियों की संख्या ज्यादा है, उन्हें भी बंद करवाना सुनिश्चित करें अथवा कर्मचारियों की ड्ïयूटी शिफ्ट में लगाएं तथा अपने संस्थान में थर्मल स्कैनर का प्रयोग करें। यही नही कर्मचारियों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए उन्हें मास्क भी उपलब्ध करवाएं और बार-बार हाथ धोने के लिए जागरूक करते हुए सैनेटाईजर की उपलब्धता सुनिश्चित करें। उपायुक्त ने नगर निगम के संयुक्त आयुक्त गगनदीप सिंह को निर्देश दिए कि जिलें में थर्मल स्कैनर की उपलब्धता चैक करें तथा सम्बंधित कम्पनी से टाईअप करें। इस मौके पर उपायुक्त ने कहा कि सभी अधिकारी अपने कार्यालयों में भी कर्मचारियों को कोरोना से सम्बंधित बचाव हेतू जानकारी के विषय में जागरूक करें। इस मौके पर जींद के उपायुक्त आदित्य दहिया के अलावा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों सहित सम्बंधित विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।

Advertisement