प्यार के जाल मे फसाया फिर कुत्ते के साथ दफनाया, डेंटल डॉक्टर ने कि लड़की की हत्या

सतना. सतना में एक ऐसी सनसनीखेज वारदात सामने आई है जिसे जानकर आपकी रूह कांप जाएगी। यहां बीते दो महीने से भी ज्यादा वक्त से लापता एक युवती की लाश पुलिस ने बरामद की है। युवती को मारकर दफन कर दिया गया था और जब पुलिस ने इस पूरे मामले का पर्दाफाश किया तो सभी हैरान रह गए।

युवती की हत्या उस डेंटल डॉक्टर ने ही की थी जिसके यहां वो काम करती थी। आरोपी डॉक्टर ने युवती के शव के साथ एक कुत्ते के शव को भी दफनाया था जिससे कि बदबू आने पर भी उसके जुर्म का पर्दाफाश न हो।

2 महीने 6 दिन बाद मिली लाश

पुलिस सूत्रों के मुताबिक सतना शहर के सिटी कोतवाली अंतर्गत आने वाले धवारी में कलेक्ट्रेट भवन के पास बनी दुकानों के पास से एक युवती का शव खोदकर बरामद किया गया है। शव मल्लाहन टोला धवारी की ही रहने वाली 24 साल की युवती विभा केवट का है। विभा एलएलबी की छात्रा थी और धवारी में ही क्लिनिक चलाने वाले डेंटिस्ट डॉ. आशुतोष त्रिपाठी के क्लीनिक पर बतौर असिस्टेंट काम करती थी। विभा 14 दिसंबर से लापता थी।

 विभा के लापता होने के बाद उसके माता-पिता ने डेन्टिस्ट से उसके बारे में पूछा था तो उसने उनसे कहा था कि विभा तुम लोगों से नाराज है और अलग कमरा लेकर रहने लगी है। बेटी के अलग रहने की बात पता चलने के बाद माता-पिता ने शहर में कई जगह उसकी तलाश की लेकिन बेटी विभा का कहीं पता नहीं चला। हफ्तों तक बेटी की तलाश करने के बाद थक चुके माता-पिता ने 1 फरवरी को पुलिस में विभा के गुमशुदा होने की शिकायत दर्ज कराई थी।

कॉल डिटेल ने खोला डेंटिस्ट के जुर्म का राज

विभा के गुमशुदा होने की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया और जब विभा के कॉल डिटेल खंगाले तो विभा के मोबाइल से अंतिम कॉल डेंटिस्ट डॉ आशुतोष त्रिपाठी के ही मोबाइल पर पाई गई। संदेह पर पुलिस ने डेंटिस्ट को हिरासत में लिया तो पता चला जो सच निकलकर सामने आया वो हैरान कर देने वाला था। आरोपी डॉ. आशुतोष ने पुलिस को बताया कि उसने 14 दिसंबर को ही विभा की हत्या कर दी थी।

सख्ती से हुई पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने विभा की हत्या करने के बाद शव को क्लिनिक और सुलभ शौचालय के बाजू में खाली पड़ी जमीन में गड्ढा खुदवाकर दफन कर दिया था। शनिवार को सीएसपी विजय प्रताप सिंह और टीआई कोतवाली अर्चना द्विवेदी भारी फोर्स के साथ उसके क्लिनिक पहुंचे और क्लीनिक के पास दफन शव को बरामद किया।

प्यार के जाल में फंसाया, कुत्ते के साथ दफनाया

पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी डेंटिस्ट ने अपनी असिस्टेंट की हत्या उसके ही दुपट्टे से गला घोंट कर की थी। आरोपी ने विभा की हत्या 14 दिसंबर को ही कर दी थी। लाश को ठिकाने लगाने उसने अपने क्लिनिक के बगल में गड्ढा खुदवाया और फिर एक मरे हुए कुत्ते का भी इंतजाम किया।

युवती का शव दफन करने के बाद उसी गड्ढे में उसने कुत्ते को भी दफनाया ताकि दुर्गंध आने पर अगर कोई देखने पहुंचे तो उसे गड्ढे में युवती का शव होने का संदेह ही न हो। साथ ही ये भी पता चला है कि विभा को नौकरी में रखने के बाद से ही आरोपी डॉक्टर उसे प्यार का झांसा देने लगा था और शारीरिक शोषण करता था। कुछ दिनों बाद जब विभा ने शादी के लिए दबाव बनाना शुरु किया तो डॉक्टर ने उससे पीछा छुड़ाने के लिए उसकी हत्या कर दी और शव को दफन कर दिया।

Advertisement