मुर्गियों के मरने की खबर से गिरी अंडों की डिमांड,  इतने रुपए हुआ अंडों का रेट……

पंचकूला के बरवाला रायपुर रानी एरिया में बड़ी संख्या में मुर्गियों मरने के मामले ने लोगों को चिंता बढ़ा दी है। वहीं, अंडे की डिमांड गिरती जा रही है। इसका असर रेट पर भी पड़ा है। आंकड़ों की माने तो मुर्गियों की मौत की खबर बाहर आने से पहले अंडे की भारी डिमांड थी। इसका रेट 5.30 रुपए से ज्यादा चल रहा था, लेकिन अब अंडे की डिमांड नहीं है और रेट 4.80 रुपए आ गया है।

बताया जा रहा है कि कई पोल्ट्री फार्म के आधे से ज्यादा मुर्गियां की मौत भी हो चुकी है। इस मामले में पंचकूला प्रशासन की ओर से सैंपलों को जालंधर लैब और भोपाल लैब में भिजवाया जा रहा है। आशंका जताई जा रही है, कि इतनी भारी मात्रा में मुर्गियों की माैत बर्ड फ्लू के कारण हो रही है। लैब की रिपोर्ट आने के बाद ही इस बात की पुष्टि हो सकेगी।

मौली बेल्ट में ज्यादा मर रहीं मुर्गियां

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रायपुररानी ब्लॉक और मौली क्षेत्र में मुर्गियों की मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा सामने निकल कर आ रहा है। सूत्र बताते हैं कि यहां कई पोल्ट्री फार्म खाली हो चुके हैं और कई में अभी भी बीमारी रुकने का नाम नहीं ले रही है। अन्य पोल्ट्री फार्म में भी फैलाव बढ़ता जा रहा है। दूसरी तरफ वाइल्डलाइफ की टीम भी गहरी नींद में सोए हुए है।

हर साल सर्दी के मौसम में मर जाती हैं मुर्गियां: सिंगला

हर साल मुर्गियां सर्दी के मौसम में मर जाती हैं। रानी खेत की बीमारी आ जाती है, जिसके कारण ऐसा होता है। प्रशासन ने यहां से सैंपलिंग करवाई है, जिसके बाद ही कुछ क्लियर हो पाएगा। सर्दियों में प्रोडक्शन भी कम हो जाता है। -हरबंस सिंगला, पोल्ट्री फार्म एसोसिएशन

Advertisement