इस एप के जरिए दिया नौकरी का झांसा, फिर की ठगी

गोहाना: बर्क इंडिया एप के जरिए नौकरी का झांसा देकर युवक से ऑनलाइन 26,249 रुपए ठग लिए गए। जब पीड़ित के पिता ने दिल्ली जाकर पूछा तो जबाव मिला कि ऐसी कोई नौकरी है ही नहीं। पुलिस ने दो महिलाओं सहित 3 आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। अभिषेक पुत्र राजबीर गोहाना सदर थाने के महमूदपुर गांव का रहने वाला है। उसने कक्षा 12वीं के आधआर पर एक साल पहले वर्क इंडिया एप पर नौकरी के लिए आवेदन दिया। इसी साल 8 जून को उसके पास किसी तान्यता का फोन आया। उसने अभिषेक को अपने दस्तावेज जमा करवाने के लिए के कहा। उसने गूगल पे से एक खाते में 1250 रुपए के रजिस्ट्रेशन शुल्क का भुगतान कर दिया।

अभिषेक ने बताया कि उसके बाद उसे 16 जून को प्रधानमंत्री रोजगार योजना का पत्र प्राप्त हुआ। 17 जून को किसी कीर्ति अग्रवाल का फोन आया। उसने सिक्योरिटी राशि के 24, 999 रुपए 2 दिन के भीतर चुकाने  के लिए कहा। 18 जून को कथित एम.डी. प्रदीप कुमार के खाते में यह राशि ऑनलाइन ट्रांसफर हो गई। 19 जून को कीर्ति अग्रवाल ने ही दोबारा फोन किया। इस बार उसने कहा कि कोरोना के चलते उसे बीमा के 20, 500 रुपए भी जमा करवाने होंगे। जिस पर उसके परिवार को संदेह हुआ। उसके पिता दिल्ली में उक्त पते पर पूछताछ करने के लिए चले गए जहां का पता दिया गया था। वहां पहुंचने पर मालूम हुआ कि ऐसी कोई नौकरी निकली ही नहीं है। अभिषेक के बयान पर गोहाना सदर थाने की पुलिस ने आरोपी तान्या, कीर्ति अग्रवाल और प्रदीप कुमार के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

Advertisement