PM मोदी के फर्जी हस्ताक्षर से जारी नियुक्ति पत्र दिखाकर रचा ली शादी, दहेज की मोटी रकम भी ली, अब ऐसे खुली पोल

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के फर्जी हस्ताक्षर कर फर्जी नियुक्ति के आदेश दिखाकर शादी करने में भी लोग खौफ नहीं खा रहे हैं। हालांकि. आरटीआई से मिली जानकारी ने सारी पोल खोल दी। अब पुलिस ने शातिर को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार, महाराष्ट्र के नासिक जिले के चेतना नगर होटल ओमसाई प्लेस के पीछे रहने वाले अमित कपूर ने अलवर शहर निवासी एक युवती से शादी की थी।

शादी से पहले अमित ने युवती के परिजनों से खुद को एनटीपीसी में बड़ा अधिकारी बताया था। उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हस्ताक्षर युक्त नियुक्ति वाला लेटरपेड भी दिखाया था। शादी के बाद असलियत सामने आने के बाद महिला ने थाने में अमित कपूर के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। अमित को अलवर कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले की जांच जयपुर सीआईडीसी सीबी कर रही थी।

जांच पूरी होने के बाद फाइल अलवर पुलिस को सौंपी गई। इस पर अलवर पुलिस ने अमित को गिरफ्तार किर लिया। पुलिस ने बताया कि अमित कपूर द्वारा दिए प्रधानमंत्री के लेटर की आरटीआई से जानकार ली तो वह फर्जी निकला। इस पर उसकी शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय को की गई।

8 मई 2018 को प्रधानमंत्री कार्यालय के सहायक निदेशक पीके इसर ने राजस्थान पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर प्रधानमंत्री भारत सरकार के फर्जी हस्ताक्षर करने मामला बताया। इस पर मुकदमा दर्ज कर जांच सीआईडी सीबी जयपुर को सौंपी गई। जांच में आरोप सही पाए जाने पर अलवर पुलिस ने अमित कपूर को अलवर बुलाकर गिरफ्तार कर लिया।

Advertisement