सीएम फ्लाइंग ने निजी अस्पताल में मारा छापा, ऑपरेशन थियेटर में मिले….

चरखी दादरी. चरखी दादरी (Charkhi Dadri) में एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह की अगुवाई में सीएम फ्लाइंग (CM Flying) की टीम ने शहर के एक निजी अस्पताल में सीएमओ (CMO) द्वारा आपरेशन करने की सूचना पर रेड मारी. इस दौरान टीम को ऑपरेशन थियेटर में सीएमओ कुर्सी पर बैठा मिला, उस वक्त ऑपरेशन चल रहा था. इस पर टीम ने सीएमओ से पूछताछ की और अस्पताल के सीसीटीवी कैमरों की जांच की.

जिला प्रशासन को सूचना मिली थी कि सरकारी अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा शहर के निजी अस्पतालों में आपरेशन किए जा रहे हैं. जिस आधार पर एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह की अगुवाई में सीएम फ्लाइंग सदस्य सब इंस्पेक्टर अनूप सिंह और टीम द्वारा रेड मारी गई.

टीम ने ऑपरेशन थियेटर में जांच की तो सिविल सर्जन डॉ. सुदर्शन पंवार ऑपरेशन थियेटर में बैठे मिले. अचानक हुई इस कार्रवाई के दौरान सीएमओ से टीम द्वारा काफी देर तक पूछताछ भी की गई. एसडीएम ने सीएम फ्लाइंग के साथ अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे को भी चेक किया है. करीब एक घंटे की इस कार्रवाई के बाद एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह अस्पताल से निकले और डीसी राजेश जोगपाल को इसके बारे में पूरी जानकारी दी.

भाजपा नेत्री की बेटी का है अस्पताल

निजी अस्पातल को भाजपा नेत्री एवं महिला आयोग सदस्य की बेटी और दामाद चलाते हैं. एसडीएम की जांच के दौरान महिला आयोग सदस्य भी अस्पताल पहुंच गईं और उन्होंने एसडीएम से कहा कि वे एक बार एकांत में बात करना चाहती हैं. मगर एसडीएम जांच में व्यस्त रहे और उनको समय नहीं दिया. करीब एक घंटे के निरीक्षण और पूछताछ के बाद एसडीएम व सीएम फ्लाइंग अस्पताल से बाहर निकली.

कार्रवाई की रिपोर्ट उपायुक्त को देंगे : एसडीएम

जांच करने वाले एसडीएम डॉ. विरेंद्र सिंह ने बताया कि वे ड्यूटी मैजिस्ट्रेट के रूप में अस्पताल में चेकिंग करने के लिए गए थे. इस दौरान सीएम फ्लांगइ टीम के साथ जांच की गई. इस मामले की जांच रिपोर्ट वे उपायुक्त को सौंपेंगे. फिलहाल वे इस बारे में ज्यादा कुछ नहीं बता सकते.

निजी अस्पताल में रिश्तेदारों से मिलने गए थे : सीएमओ

सीएमओ डॉ. सुदर्शन पंवार ने मीडिया से कहा कि वे निजी अस्पताल में अपने रिश्तेदारों से मिलने पहुंचे थे. उन्होंने ने कहा कि वो रूटीन में चाय-पानी पीने यहां आते हैं. सीएम फ्लाइंग और एसडीएम को पता नहीं किसने गलत सूचना दी है. वे यहां आते-जाते रहते हैं. सीएमओ ने बताया कि ऑपरेशन थियेटर में उन्होंने कोई चिकित्सा की ड्रेस नहीं पहनी हुई थी. वे सिर्फ बैठे हुए थे.

Advertisement