चंडीगढ़ पुलिस के सिपाही ने 5 लाख लोन लेकर 40 हजार पौधे तैयार किए, 10 गांवों में बनाएंगे ऑक्सीजन बाग

Advertisement

------------- Advertisement -----------

सोनीपत. आने वाली पीढ़ियों को स्वच्छ हवा देना ही मेरा लक्ष्य है। सोनीपत को हरा-भरा बनाने के लिए मैं तब तक लगा रहूंगा जब तक हर व्यक्ति इस मुहिम से नहीं जुड़ जाता। एक खुशी भी है 7 साल पहले जब में पर्यावरण बचाओ, पेड़ लगाओ मुहिम शुरू की थी तो चंद लोग साथ आए थे। लेकिन अब कारवां जुड़ रहा है, 10 हजार लोग इस मुहिम से जुड़ चुके हैं। यह सभी पर्यावरण मित्र हैं। यह कहना है ट्री-मैनका।

चंडीगढ़ पुलिस के जवान सेक्टर-23 निवासी देवेन्द्र ने भास्कर को खास बातचीत की। देवेन्द्र बताया कि प्रदूषण से हवा जहरीली हो रही है, जिसका असर सांसों पर पड़ रहा है। ऐसे में एक पेड़, एक जिंदगी मुहिम से सब जुड़े।

Advertisement

सोचिए -आप अगली पीढ़ी को क्या दे जाएंगे

ट्री-मैन देवेंद्र सूरा ने बताया कि प्रदूषण से हवा जहरीली हो रही है। जिंदगी बहुत छोटी हो रही है। सब अपने बारे में सोच रहे हैं , लोगों मन में यह बात नहीं आ रही कि हम आने वाली पीढ़ी को क्या देकर जाएंगे। लोग पर्यावरण के प्रति जागरूक हो इसलिए 10 गांव में ऑक्सीजन बाग बनाए जाएंगे। ऑक्सीजन बाग बीधल, मुरथल गोशाला, बली कतुबपुर, चटिया, नदिपुर माजरा, हुल्लाहेड़ी, कतलुपुर, गोहाना माजरा, जागसी में बनाए जाएंगे।

खुशी के अवसर पर पौधे लगाने की रिवाज हर घर तक हो

देवेंद्र ने बताया की हर खुशी के अवसर पर पौधे रोपने की रिवाज शुरू कर रखी है। , भात, जन्मदिन, शादी की सालगिराह पर लोगों को निशुल्क पौधे बांटे जा रहे हैं।  काफी लोग इस रिवाज से जुड़े भी हैं। खुद फोन करके पौधे देने के लिए कहते हैं। अब इसे हर घर तक पहुंचाया जाएगा।

मानसून सीजन में 40 हजार पौधे रोपे जाएंगे

उन्होंने कहा, ‘इस बार के मानसून सीजन में 40 हजार पौधे रोपने का लक्ष्य रखा है। आर्थिक पेंच आड़े न आए, इसलिए 5 लाख लोन लिया था। लोगों को निशुल्क पौधे देने के साथ कई ऐसी प्लांनिग की है।’ देवेंद्र ने आगे कि निःशुल्क पौधे देने के लिए दो एकड़ में नर्सरी तैयार की है। इसका नाम भी जनत नर्सरी रखा है। नर्सरी का लगातार विस्तार किया जा रहा है। आर्थिक मदद अभी कही से नहीं मिली, करीब 35 लाख रुपए लोन ले चुका हूं।

Advertisement