हरियाणा में लागू होने जा रही है केंद्रीकृत रजिस्ट्री प्रणाली। किसी भी तहसील से हो जाएगी रजिस्ट्री

Advertisement

------------- Advertisement -----------

हरियाणा की तहसीलों में मानव हस्तक्षेप न के बराबर करने के लिए जल्दी केंद्रीकृत रजिस्ट्री प्रणाली लागू की जाएगी। इससे एक तहसील में दस्तावेज जमा करने के बाद कोई भी व्यक्ति किसी भी तहसील से अपनी रजिस्ट्री करवा सकेगा। तहसीलों में ई-रजिस्ट्री लागू करने के बाद अब राजस्व विभाग इस प्रणाली को शुरू करने के बेहद करीब है।

राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग का कार्यभार संभाल रहे उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि 13 उपतहसीलों में भू-रिकॉर्ड के डिजिटलाइजेशन का कार्य अभी पूरा नहीं हुआ है, जिसे तेजी से पूरा करने के निर्देश दिए हैं। यह कार्य पूरा होने के साथ ही पूरे हरियाणा के भू-रिकॉर्ड का डिजिटलाइजेशन हो जाएगा। हरियाणा ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य होगा। रजिस्ट्री में मानव हस्तक्षेप कम होने से भ्रष्टाचार पर भी अंकुश लगेगा।

Advertisement

डिप्टी सीएम ने बताया कि गांवों को लाल-डोरा मुक्त करने का कार्य जारी है। करनाल जिले के सिरसी गांव को हरियाणा का पहला लाल-डोरा मुक्त गांव बनाने के बाद पहले चरण में 75 गांवों को लाल-डोरा मुक्त करने का प्रस्ताव तैयार किया गया था, जिसे अब बढ़ाकर 100 गांव कर दिया है। उन्होंने कहा कि इससे लाल डोरे के अंदर भी संपत्तियों की रजिस्ट्री शुरू होगी। सर्वे ऑफ इंडिया के माध्यम से पूरे हरियाणा के गांवों का डिजिटलाइजेशन कार्य किया जा रहा है।

Advertisement