कार में जिंदा जली दुल्हन, बाहर खड़ा पति मंजर देख सहमा

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर एक दर्दनाक हादसे में एक नवविवाहित महिला की कार में जिन्दा जलकर मौत हो गयी। कार के बाहर खड़ा महिला का पति ये पूरा मंजर देख रहा रहा। सेन्ट्रल लॉक लग जाने की वजह से उसकी पत्नी कार से बाहर न आ सकी और दर्दनाक हादसे का शिकार हो गयी। इस दौरान पति ने अपनी नवविवाहिता पत्नी को बचाने की पूरी कोशिश की।

जानकारी के अनुसार लखनऊ के मोहनलालगंज निवासी विकास अपनी नवविविवाहिता पत्नी रीमा के साथ मथुरा से लौट रहे थे। तभी कार में कुछ खराबी आ गयी। आगरा लखनऊ एक्सप्रेसवे पर फतेहाबाद में विकास कार का बोनट खोलकर देख रहे थे, तभी कार आग का गोला बन गई। बताया जा रहा है कि विकास और रीमा की एक महीने पहले 2 दिसंबर को ही शादी हुई थी। 30 दिसंबर को पति-पत्नी मथुरा-वृंदावन दर्शन करने आए थे। 31 की रात दोनों कार से आगरा होते हुए लखनऊ वापस लौट रहे थे।

इस दौरान कार एक्सप्रेस वे पर फतेहाबाद थाना क्षेत्र पहुंची तो कार के बोनट से धुआं निकलने लगा। ये देश उन्होंने कार रोकी और बोनट खोलकर देखने लगे। इसी दौरान अचानक कार के बोनट से आग भड़क उठी और देखते ही देखते कार में अंदर तक फैल गई। आग इतनी भीषण होती चली गई कि कार का सेंट्रल लाक सिस्टम फेल हो गया। विकास ने फटाफट पत्नी को बाहर निकालने की कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हुए।

सेंट्रल लाक की वजह से रीमा कार के बाहर न आ सकीं। फिर विकास से पत्थर ढूंढने की कोशिश की, लेकिन उन्हें आसपास पत्थर भी नहीं मिला, जिससे शीशा तोड़ सकें। उनकी आखों के सामने पत्नी की जलकर मौत हो गई। इस दौरान पत्नी को बचाने के चक्कर में विकास भी झुलस गए। सूचना पर पुलिस और फायर ब्रिगेड को पहुंचने में एक घंटा लग गया। हालांकि तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

Advertisement