इस महीने से IGI एयरपोर्ट से हवाई यात्रा महंगी होगी, जानिए कितना लगेगा एक्स्ट्रा चार्ज

अगले महीने से दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (IGI airport) से हवाई यात्रा महंगी हो जाएगी. एयरपोर्ट इकोनॉमिक रेग्युलेटरी अथॉरिटी (AERA) ने दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (DIAL) को सभी पैसेंजर से 65.98 रुपये प्लस टैक्स लगाने की अनुमति दे दी है. यह नियम 1 फरवरी से 31 मार्च 2021 तक लागू रहेगा.

हालांकि अगले वित्त वर्ष से यह चार्ज कम किया जा रहा है. वित्त वर्ष 2021-22 में यह घटकर 53 रुपये, वित्त वर्ष 2022-23 में 52.56 रुपये और वित्त वर्ष 2023-24 में यह घटकर 51.97 रुपये प्लस टैक्स हो जाएगा. टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी रिपोर्ट के मुताबिक AERA ने DIAL के उस प्रस्ताव को फिलहाल ठुकरा दिया है जिसके तहत सभी डमेस्टिक पैसेंजर से 200 रुपये और इंटरनेशनल पैसेंजर से 300 रुपये एक्स्ट्रा वसूलने की मांग की जा रही थी. कोरोना के कारण डायल को रेवेन्यू का भारी नुकसान हुआ है. DIAL चाहता है कि रेवेन्यू की भरपाई के लिए इस चार्ज को मार्च 2024 तक लागू किया जाए.

अगले साल के बाद यह प्रस्ताव लेकर आए DIAL

AERA ने डायल से कहा कि अपने इस प्रस्ताव को लेकर वह मार्च 2022 के बाद संपर्क करे. अप्रैल 2020 से मार्च 2024 के बीच दिल्ली एयरपोर्ट अथॉरिटी को रेवेन्यू में करीब 3538 करोड़ की गिरावट का अनुमान है. ऐसे में अथॉरिटी ने एविएशन मिनिस्ट्री को लिखकर मामले में दखल की मांग की है. अपनी चिट्ठी में डायल के सीईओ वीके जयपुरिया ने लिखा है कि हम नकदी समस्या से जूझ रहे हैं. अगर समय रहते सही फैसला नहीं उठाया जाता है तो हमारे लिए एयरपोर्ट ऑपरेशन को जारी रखना मुश्किल होगा.

तीन सालों तक पैसेंजर्स ट्रैफिक पर दिखेगा असर

कोरोना काल में एयर ट्रैफिक में भारी गिरावट आई है. AERA ने IGIA अथॉरिटी के उस कंसर्न को समझा है जिसमें कहा गया है कि वित्त वर्ष 2023-24 यानी मार्च 2024 तक एयर ट्रैफिक पर इसका असर दिखाई देगा. हालांकि मार्च 2024 के बाद इसके प्री-कोविड लेवल तक पहुंचने या मामूली तेजी की उम्मीद है. हालांकि कोरोना का कार्गो विमान के ट्रैफिक पर कोई खास असर नहीं हुआ है.

Advertisement