अगर सिर्फ 40 मिनट और मिलते तो हो जाती ये शादी, जानिए पूरी खबर

राजस्थान के जोधपुर कोर्ट में एक शादी में फिल्मी ड्रामा देखने को मिला है। जहां युवक और युवती शादी करने के लिए अपने-अपने घरों से भाग कर कोर्ट पहुंच गए, लेकिन आखिरी समय पर घर वाले आ गए और शादी नहीं होने दी। युवक और युवती के घर वाले इस शादी के लिए राज़ी नहीं थे। उधर, युवती के परिजन सीधे खांडा फलसा थाने पहुंचे और युवक के खिलाफ युवती को भगाने का मामला दर्ज करवाया।

शक होने पर युवती के परिजन पीछे-पीछे कोर्ट पहुंच गए। उन्होंने युवती को घर ले जाने की कोशिश की तो युवक ने विरोध किया। युवती के परिजनों ने उसकी पिटाई कर डाली। इसके बाद युवती वहां से भागने लगी तो परिजनों ने उसका  पीछा कर उसे पकड़ लिया। कोर्ट परिसर में यह दृश्य ऐसा लग रहा था जैसे कोई फिल्म का सीन चल रहा है, जिसे देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग वहाँ जमा हो गए।

वही युवती के परिजनों ने तेजी से उसे गाड़ी में बैठा लिया और वहा मौजूद लोगो को लगा कि युवती का अपहरण हो रहा है। इस पर युवती के पिता बोले कि ये मेरी बेटी है, इसे घर ले जा रहा हूं। इस मामले में युवती के पिता ने खांडा फलसा थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। इसके बाद पुलिस ने युवक को पाबंद किया। अगर युवती के परिजन 40 मिनट देरी से पहुंचते तब तक दोनों का विवाह कोर्ट में कानूनी हो जाता, लेकिन ऐसा हो पाया। दस्तावेज तैयार हो ही रहे थे कि तभी युवती के परिजन उसे पकड़कर घर ले गए।

आपको बता दें कि युवक, युवती की सहेली का भाई था, जिसके चलते युवती युवक के घर आती-जाती थी। वहीं युवक और युवती की जान पहचान हुई, जिसके बाद दोनों में दोस्ती और फिर प्रेम हो गया। युवती तीन दिन पहले ही बालिग हुई है, जिसके बाद दोनों ने प्रेम विवाह करने का तय किया और दोनों घर से भाग गए और कोर्ट में शादी करने ही वाले थे इतने में युवती के परिजन आ गए।

Advertisement