HomeKarnal News4 शातिर बाइक चोर करनाल पुलिस की CIA 1 शाखा ने किए...

4 शातिर बाइक चोर करनाल पुलिस की CIA 1 शाखा ने किए गिरफ्तार, पुलिस ने चोरों से 9 बाइक की बरामद।

IBN24 न्यूज़ नेटवर्क 18 जून 2022 करनाल,  जिला पुलिस करनाल की एंटी ऑटो व्हीकल थेफ्ट टीम इंचार्ज उप निरीक्षक रोहताश व उनकी सहयोगी टीम द्वारा मोटरसाईकिल चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों के कब्जे से चोरीशुदा नौ मोटरसाईकिल बरामद की गई हैं।

टीम द्वारा कल 17 जून को आरोपी रमन पुत्र ईशम सिंह वासी गांव उमरी जिला कुरूक्षेत्र को विश्वसनीय सूचना पर चोरी की एक मोटरसाईकिल सहित निलोखेडी से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपी द्वारा थान निगदू के एरिया से मोटरसाईकिल चोरी की वारदातों को अंजाम देने बारे खुलासा किया गया। जिस पर आरोपी के कब्जे से दूसरी मोटरसाईकिल भी बरामद, कुल दो मोटसाईकिल बरामद की गई। दो आरोपियों 1. अजय व 2. सावन पुत्रान जलविन्द्र वासी गांव लल्याणी जिला करनाल को चोरी की एक मोटरसाईकिल सहित तरावडी से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपियों द्वारा थाना बुटाना, घरौंडा व इन्द्री के एरिया से मोटरसाईकिल चोरी की एक-एक वारदात को अंजाम देने बारे खुलासा किया गया।

जिस पर आरोपियों के कब्जे से दो और मोटराईकिलें, कुल तीन मोटरसाईकिलें बरामद की गईं।चौथे आरोपी जसदेव उर्फ जस्सी पुत्र समीन्द्र सिंह वासी कपिल का डेरा गांव पलवल जिला कुरूक्षेत्र हाल गोविन्द गढ़ गामडी जिला करनाल को चोरी की एक मोटरसाईकिल सहित पश्चिमी यमुना  नहर बाईपास करनाल से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपी द्वारा जिला करनाल के थाना इन्द्री, थाना शहर, तरावडी व जिला कुरूक्षेत्र के थाना शहर से एक-एक मोटरसाईकिल चोरी की वारदातों को अंजाम देने बारे खुलास किया गया। जिस पर आरोपी के कब्जे से तीन और मोटरसाईकिलें, कुल चार मोटरसाईकिलें बरामद की गई।इस प्रकार चारों आरोपियों के कब्जे से कुल नौ मोटरसाईकिलें बरामद की गई। 

जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी रमन के खिलाफ पहले भी आर्म्स एक्ट व लडाई-झगडे के मामले जिला कुरूक्षेत्र में दर्ज हैं। इन मामलों में आरोपी जमानत पर बाहर चल रहा है और आरोपी ने वर्ष 2021 में अपने साथियों के साथ मिलकर शाहबाद के पास से एक मोटरसाईकिल लूटी थी। आरोपी उस मामले में भी वांछित चल रहा है। आरोपी अजय व सावन आदतन अपराधी हैं। इनके खिलाफ भी चोरी के करीब सात मामले दर्ज हैं। आरोपी जसदेव भी आदतन अपराधी है। आरोपी मोबाइल फोन चोरी के मामले में फिलहाल जमानत पर बाहर चल रहा है। आरोपियों को आज पेश अदालत करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया। 

जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी ज्यादातर स्प्लैण्डर मोटरसाईकिलों को निशाना बनाते थे। आरोपी प्राय बिना पार्किंग के या भीडभाड एरिया में खडी मोटरसाईकिल या बिना पार्किंग के ही एंकात जगह में खडी मोटरसाईकिलों को निशाना बनाते थ। जिसके बाद आरोपी मोटरसाईकिल की रैकी करते थे और मौका पाकर मोटरसाईकिल में पुरानी चाबी या डुप्लीकेट चाबी लगाकर लॉक खोलकर या फिर लॉक खुली मोटरसाईकिलों का प्लग निकालकर उन्हें डायरेक्ट करके मोटरसाईकिल चोरी की वारदातों को अंजाम देकर मौका से फरार हो जाते थे। करनाल पुलिस की आमजन से अपील है कि अपने वाहन को बिना पार्किंग के, एंकात जगह या भीडभाड वाली जगह पर अपनी बिना देखरेख के कंही भी खडा ना करें। हमेशा किसी अधिकृत पार्किंग में ही अपना वाहन खडा करें। अपनी दो पहिया वाहन की सुरक्षा पुख्ता करने के लिए अपने वाहन में व्हील लॉक भी अवश्य लगवाकर रखें।

Html code here! Replace this with any non empty raw html code and that's it.
RELATED ARTICLES

Most Popular