चाकू की नोंक पर बजुर्ग दम्पति को बंधक बनाकर डकैती की वारदात में शामिल 4 अन्य आरोपी गिरफ्तार- रेकी करने और आरोपियों को पनाह देने का आरोप

करनाल : करनाल के सेक्टर 9 स्थित मकान नम्बर 1702 में रहने वाले बजुर्ग दम्पति के घर बीती 11-12 सितम्बर को डकैती करने वाले कुल 11 आरोपियों में से वारदात में शामिल 8 आरोपियों को अभी तक करनाल पुलिस गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर चुकी है। करनाल पुलिस के अनुसार अभी तक पकड़े गए 8 आरोपियों में से 4 आरोपी नाबालिग है जिसमें से सबसे छोटे आरोपी की उम्र 13 वर्ष है तथा 4 अन्य आरोपी व्यस्क है। पुलिस के अनुसार अधिकतर आरोपी नशे की लत के चलते वारदात को अंजाम देने पहुंचे थे। जानकारी देते हुए करनाल की सेक्टर 9 चौंकी के इंचार्ज सलिंदर सिंह ने बताया कि सभी आरोपियों ने बजुर्ग दम्पति के मकान में घुसकर मकान मालिक व उसकी पत्नी को चाकू के बल पर जान से मारने की धमकी देकर उनसे डकैती को अंजाम दिया था तथा बजुर्ग महिला को चाकू मारकर घायल भी कर दिया था ।
वारदात के दौरान आरोपियों ने बजुर्ग दम्पति से 85 हजार रुपए की बड़ी लूटपट की । डकैती की घटना को अंजाम देने के दौरान आरोपियों ने पीड़ित दम्पति से दो मोबाईल फोन, पांच घड़ियां व आर्टिफिशिल ज्वैलरी लूटकर वारदात को अंजाम दिया गया था। इस मामले में कल भी करनाल पुलिस ने प्रेस वार्ता कर चार नाबालिग आरोपियों को पकड़ने का खुलासा किया था जिन्हें फिलहाल बाल सुधार गृह भेजा गया है।  इस वारदात के संबंध में मकान मालिक सुदेश कुमार सोनी पुत्र मंगतराम सोनी के ब्यान पर पांच अज्ञात आरोपियों के खिलाफ करनाल के थाना सैक्टर- 32/33 में धारा 379बी, 395, 342, 506 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया था ।
उक्त मामले में तवरित कार्यवाही करते हुए पुलिस चौकी सेक्टर-09 के दबंग व् होनहार माने जाने वाले चौंकी इंचार्ज सलिंदर सिंह ने वारदात में शामिल कुल 8 आरोपियों को पकड़ने में सफलता हासिल की है । कल गिरफ्तार 4 नाबालिग आरोपियों से करनाल पुलिस ने कुल 9600 रूपये की नगदी, पांच घड़ीयां, चार चाकू, एक मोबाईल फोन व कुछ आर्टिफिशिल ज्वैलरी को बरामद किया था । इसी दौरान चारों नाबालिग आरोपियों ने पूछताछ में अपने अन्य साथियों के नाम का खुलासा किया जिसके बाद कार्यवाही करते हुए कल ही सेक्टर 9 चौंकी इंचार्ज सलिंदर सिंह ने टीम बनाकर देर रात चार अन्य आरोपियों गुरचरण सिंह पुत्र प्यारासिंह, जतिन उर्फ जलेबी वासियान नेवल जिला करनाल, अजय कुमार पुत्र कारी पासान वासी झुग्गी झोंपडी सेक्टर-32/33 करनाल व आकाश उर्फ अग्रेंज पुत्र नरेश कुन्डू वासी आरके पुरम करनाल को विश्वसनीय सूचना पर सेक्टर-32 करनाल के इलाके से गिरफ्तार किया ।
आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि आरोपी अजय वारदात वाले दिन से कुछ दिन पहले उक्त मकान में डकैती का प्रयास करने की वारदात में शामिल था और डकैती के प्रयास करने की वारदात में रैकी भी की थी। बाकि तीनों आरोपियों को किशोरों द्वारा डकैती किए जाने की वारदात का पता चला था। जिसकी वजह से तीनों आरोपियों ने पांचों किशोरों को ब्लैकमेल करके उनसे रुपए ऐंठे थे और किशोरों को छुपाने व शरण देने में भी सहायता की थी । जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी गुरचरण के खिलाफ पहले भी चोरी के तीन मामले दर्ज हैं । इन मामलों में आरोपी जमानत पर बाहर चल रहा था । गिरफ्तार किए गए चारों आरोपियों के कब्जे से कुल 11500 रूप्ये नगद व वारदात में लूटा गया एक मोबाईल फोन बरामद किया गया है । चारों आरोपियों को आज अदालत में पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया । वारदात में शामिल पांचवे नाबालिग व अन्य 2 की तलाश जारी है । आपको बता दें कि इस वारदात में शामिल सबसे छोटे आरोपी की उम्र मात्र 13 साल है और इस डकैती का मुख्य आरोपी उस महिला का बेटा है जो महिला बजुर्ग दम्पति के घर पर साफ़ सफाई का काम करती थी. पुलिस के अनुसार फिलहाल मुख्य आरोपी फरार है जिसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

Advertisement