बजट सत्र के अंतिम दिन पर हंगामा, सरकार-विपक्ष भिड़े, अभय ने गिनाए भाजपा नेताओं के नाम

हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के अंतिम दिन सदन में नशे के मुद्दे को लेकर खूब हंगामा हुआ। कांग्रेस, जजपा व इनेलो विधायकों ने सरकार को घेरने में कोई कसर नहीं छोड़ी। नशा तस्करों को भाजपा नेताओं का संरक्षण होने के आरोप तीनों दलों के विधायकों पर लगाए। भाजपा के एक केंद्रीय मंत्री व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष का नाम भी उछाला गया.

विपक्षी विधायकों के गंभीर आरोपों पर गृह मंत्री अनिल विज को सदन में यह घोषणा करनी पड़ी कि नशा तस्करी में कितना भी बड़ा व्यक्ति शमिल न हो अन्यथा जांच में दोषी पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। नशा तस्करों पर शिकंजा कसने के लिए नारकोटिक्स ब्यूरो गठित किया जा रहा है। 200 लैब्राडोर डॉग खरीदने को मंजूरी दी गई है। इनमें आदमी से दो सौ गुणा ज्यादा सूंघने की क्षमता होती है। नशा तस्करों को पकड़ने के लिए इनकी मदद ली जाएगी।

सदन में कांग्रेस के 12 और एक इनेलो विधायक की ओर से नशे पर ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लाया गया था। जिसे सदन में कांग्रेस विधायक सुरेंद्र पंवार ने पढ़ा। इस पर हंगामा तब शुरू हुआ जब गृह मंत्री विज ने कहा कि जब कांग्रेस एमएलए के नाम पर बुक एमएलए हॉस्टल के कमरे से नशे का कारोबार चलेगा तो कैसे यह समाप्त होगा। बरौदा के कांग्रेस विधायक श्रीकृष्ण हुड्डा के नाम पर बुक कमरे में रह रहे युवक को चंडीगढ़ पुलिस ने सेक्टर-39 में पकड़ा था, जिससे बड़ी मात्रा में हेरोइन बरामद हुई थी।

Advertisement